instagram follow
Ad

बिजनौर में रात्रि लाॅकडाऊन लागू होते ही शुरू हो गयी है कालाबाजारी बीडी और गुटखा खाने वालों पर सबसे अधिक मार,

🔹नजीबाबाद में दुकानें बंद कर व माल स्टॉक कर शुरू हो गयी कालाबाजारी,

Bijnor: जिले में रात्रि कर्फ्यू लगते ही जनपदभर से कालाबाजारी की खबरें आ रही हैं साप्ताहिक 2 दिन का लॉकडाउन लगने व आवश्यक सामानों की दुकानें ही निर्धारित समय तक दुकाने खुलने की सूचना की जानकारी मिलते ही नगर में दुकानें बंद कर व माल स्टॉक कर कालाबाजारी शुरू हो गई है

नगर के छोटे दुकानदारो का कहना सिगरेट बीड़ी गुटखा पर अचानक से रेट बढ़ा दिए है बाजार में माल कम हो गया है और महंगा हो गया है ग्राहक के महंगा बेचने के विरोध को देखते हुए माल रखना छोड़ दिया है गुटखा, तंबाकू बीड़ी और सिगरेट लॉकडाउन से पहले ही बाजार से गायब हो गई सूत्रों की माने तो ऐसा बड़े व्यापारियों द्वारा कालाबाजारी करने की वजह से हुआ है।

फल सब्जी के भावों में भी बढोतरी देखी जा रही है ऐसा भी हो सकता है कि पूरी तरह से लॉक डाउन लगने की संभावनाओं को देखते है बड़े व्यापारियों ने जरुरी सामान का स्टॉक किया हो क्योंकि कर्फ्यू के दौरान जरुरी सामान के विक्रय व आवागमन और दुकानों के खोलने को लेकर छूट दी जाती है इसी को देखते हुए व्यापारियों द्वारा कालाबाजारी करने के लिए जरुरी सामान का स्टॉक कर दिया है। जिसका असर बुधवार को देखने को मिला

लॉकडाउन की खबरे गर्म है बाजार में सब्जी के दाम भी बढ़ा दिए गए और मजबूरी में ये सब्जी लोगों को खरीदना पड़ी। क्योंकि लॉकडाउन में सब्जी और भी महंगी होने को लेकर लोगों में आशंका है। शादी समारोह होने के कारण इलेक्ट्रानिक्स आइटम व अन्य सामान के रेट भी बढ़े है

जनता त्रस्त है व्यापारी मस्त है इसमें नुकसान आम आदमी का है उनका कहना है कि प्रशासन को इसकी सुध लेनी चाहिए उनके टाइट चाबुक से ही कालाबाज़ारी पर लगाम लग सकता है

🔹नगीना: गुटखा सिगरेट तंबाकू बीड़ी पान मसाला कि जबरदस्त कालाबाजारी शुरू

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू और शनिवार व रविवार को पूर्ण रूप से लॉक डाउन की खबर सुनते ही गुटका व्यापारियों ने चांदी कितना शुरू कर दी है अभी से ही स्टॉक को स्टोर करने में अधिकतर बड़े दुकानदार लग गए हैं सूत्रों के अनुसार बताया गया बाजार में दो पैकेट गुटको का ₹125 का था आज 180 और ₹200 का मिल रहा है

वही इससे छोटे दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और ₹5 वाला गुटखा ₹7 में मिल रहा है पीछे से माल महंगा आ रहा है यह बहाना मिला कर माल महंगा दिया जा रहा है अभी शुरुआत गुटका बीड़ी सिगरेट से हुई है आगे चलकर पता नहीं और किन-किन चीजों की कालाबाजारी होगी

आपको बता दें कि पिछले वर्ष लोकडाउन में 5 वाला गुटखा 20 से ₹25 में बिक रहा था और सिगरेट ₹5 वाली ₹10 से लेकर ₹20 तक बिक रही थी जहां गरीब और मजदूर शनिवार और रविवार के लॉकडाउन लगने से परेशान है वही कुछ लोग इसका फायदा उठाते हुए नजर आ रहे हैं देखना यह है कि प्रशासन का चाबुक इन पर कैसे चलता है

नगीना से हमारे सवांददाता मोहम्मद अलीम सलमानी की यह खास रिपोर्ट,

©Bijnor Express

बिजनौर एक्सप्रेस के माध्यम से लाखो लोगो तक अपने व्यापार(Business), व्यक्तिगत छवि,चुनाव व व्यवसायिक उत्पाद(Products) प्रचार प्रसार हेतु संपर्क करें- 9193422330 | 9058837714

ad

और पढ़ें